मैंगनीज धातु के गुण, उपयोग और जानकारी Manganese in Hindi

मैंगनीज (Manganese) धातु के गुण, उपयोग और जानकारी Manganese in Hindi 

मैंगनीज (Manganese) धातु का परिचय

मैंगनीज (Manganese) धातु का वर्गीकरण ट्रांजीशन मेटल (Transition Metal) के रूप में किया जाता है, तथा रासायनिक रूप से मैंगनीज एक तत्व है। मैंगनीज का घनत्व 7.43 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर होता है। मैंगनीज सामान्य तापमान पर ठोस अवस्था में पाया जाता है, इसका गलनांक (पिघलने का तापमान) 1246 डिग्री सेल्सियस (2275 डिग्री फेरेनाइट) और इसका क्वथनांक (उबलने का तापमान) 2061 डिग्री सेल्सियस (3742 डिग्री फेरेनाइट) होता है, तथा इससे अधिक तापमान पर मैंगनीज धातु गैस अवस्था में पायी जाती है। मैंगनीज का परमाणु भार 54.938 AMU, परमाणु संख्या 25 तथा इसका सिंबल (Mn) होता है। आवर्त सारणी (Periodic Table) में मैंगनीज ग्रुप 7, पीरियड 4 और ब्लॉक (D) में स्थित होता है। इसके परमाणु में 25 इलेक्ट्रान, 25 प्रोटोन, 30 न्यूट्रॉन तथा 4 एनर्जी लेवल होते है। 

 

मैंगनीज की खोज स्वीडिश केमिस्ट जोहन गॉटलीब गहन (Johan Gottlieb Gahn) ने 1774 में की थी।

Manganese-ke-gun, Manganese-ke-upyog, Manganese-ki-Jankari, Manganese-information-in-Hindi, Manganese-uses-in-Hindi, मैंगनीज-धातु-के-गुण, मैंगनीज-धातु-के-उपयोग, मैंगनीज-धातु-की-जानकारी
Manganese Metal Properties in Hindi

मैंगनीज (Manganese) धातु के गुण 

  • मैंगनीज सिल्वर ग्रे रंग की चमकदार धातु है, जिसमें हलके गुलाबी रंग की झलक होती है। 
  • मैंगनीज कठोर और भंगुर धातु है, शुद्ध अवस्था में मैंगनीज इतना अधिक भंगुर होता है की इसे मशीनिंग नहीं किया जा सकता। 
  • मैंगनीज रासायनिक रूप से सक्रीय तत्व है इसलिए यह प्रकृति में शुद्ध अवस्था में नहीं पाया जाता। 
  • मैंगनीज हवा में उपस्थित ऑक्सीजन से क्रिया करके मैंगनीज डाई-ऑक्साइड बनाता है, उच्च तापमान पर यह प्रतिक्रिया बहुत तेजी से होती है। 
  • पानी के संपर्क में आने पर मैंगनीज पर लोहे की तरह जंक लग जाता है, ठन्डे पानी में यह प्रतिक्रिया धीमी होती है, जबकि गर्म पानी और वाष्प में यह प्रतिक्रिया बहुत तेजी से होती है। 
  • मैंगनीज अधिकांश एसिड्स में घुल जाता है और हाइड्रोजन गैस उत्पन्न करता है। 
  • मैंगनीज पाउडर बहुत ज्वलनशील होता है, तथा आग लगने पर यह तेज सफ़ेद रौशनी के साथ जलता है। 

👉आवर्त सारणी के सभी तत्वों की हिंदी में विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें,  (Click here for detailed information on Periodic Table Elements in Hindi)

 

मैंगनीज (Manganese) धातु के उपयोग 

  • अधिकतर मैंगनीज का उपयोग मिश्रधातु बनाने के लिए किया जाता है। 
  • स्टील में लगभग 1% मैंगनीज मिलाया जाता है, इससे स्टील की स्ट्रेंथ में वृद्धि होती है। 
  • मैंगनीज-स्टील में लगभग 13% मैंगनीज होता है, यह बहुत मजबूत स्टील होता है। इस स्टील का उपयोग राइफल की बैरल, रेलवे की पटरी, तिजोरी और जेल की सलाखों के लिए किया जाता है। 
  • एलुमिनियम में 1.5% मैंगनीज मिलकर इस मिश्रधातु से ड्रिंक कैन बनाए जाते है। 
  • मैंगनीज ऑक्साइड का उपयोग उत्प्रेरक के रूप में किया जाता है।   
  • मैंगनीज सभी जीवित प्राणियों के लिए आवश्यक होता है, तथा यह हमारे शरीर के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व  है, हमें प्रतिदिन लगभग 2 – 4 मिलीग्राम मैंगनीज की आवश्यकता होती है, यह हमारे शरीर में विटामिन B1 उपयोग के लिए आवश्यक  होता है, तथा यह हमारे शरीर में बनने वाले कई एंजाइमों का एक मुख्य घटक होता है। इसके अलावा यह हमारे शरीर में किडनी और लिवर के कार्य करने के लिए भी आवश्यक है।  
  • मैंगनीज़ का उपयोग उर्वरकों  में किया जाता है। 
  • ड्राई सेल बैटरी में हाइड्रोजन के निर्माण को रोकने के लिए इनमे मैंगनीज का उपयोग किया जाता है। 
  • कांच में हरे रंग को हटाने के लिए मैंगनीज का उपयोग किया जाता है।  
  • मैंगनीज का उपयोग काले पेंट में सुखाने वाले एजेंट के रूप में किया जाता है। 
  • मैंगनीज का उपयोग बैंगनी रंग का कांच बनाने के लिए किया जाता है। 
  • मैंगनीज पौधो में प्रकश-संश्लेषण के लिए आवश्यक होता है।  
 

मैंगनीज (Manganese) धातु की रोचक जानकारी 

  • मैंगनीज पृथ्वी की पपड़ी में 12वॉ सबसे अधिक मात्रा में पाया जाने वाला तत्व है। 
  • समुद्र के तल पर मैंगनीज नोड्यूल पाए जाते है इन नोड्यूलस में लगभग 24% मैंगनीज होता है , वैज्ञानिकों के अनुसार महासागरों तल पर 1.5 खरब टन (Trillion Tons) मैंगनीज नोड्यूल के भंडार मौजूद हो सकते है। 
  • हर साल कुल उत्पादित होने वाले मैंगनीज़ का 90% से अधिक का उपयोग स्टील उत्पादन में किया जाता है।  
  • एक वयस्क व्यक्ति के शरीर में लगभग 12 मिलीग्राम मैंगनीज़ उपस्थित होता है। 
  • अधिक मात्रा में मैंगनीज स्वास्थ्य के लिए विषैला होता है। मैंगनीज के अधिक संपर्क में आने पर तंत्रिका तंत्र और मस्तिष्क सम्बंधित गंभीर रोग हो सकते है।  
  • मैंगनीज डाई ऑक्साइड को पेंट के रूप में हजारों सालों से उपयोग किया जा रहा है। 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!