मोलिब्डेनम (Molybdenum) के गुण उपयोग और रोचक जानकारी Molybdenum in Hindi - GYAN OR JANKARI

Latest

Thursday, April 15, 2021

मोलिब्डेनम (Molybdenum) के गुण उपयोग और रोचक जानकारी Molybdenum in Hindi

मोलिब्डेनम (Molybdenum) धातु के गुण उपयोग और रोचक जानकारी  


मोलिब्डेनम (Molybdenum) धातु का परिचय 

मोलिब्डेनम (Molybdenum) एक धातु है, इसका वर्गीकरण ट्रांजीशन मेटल (Transition Metal) के रूप में किया जाता है, तथा रासायनिक रूप से मोलिब्डेनम एक तत्व है। मोलिब्डेनम का घनत्व 10.2 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर होता है, इसका परमाणु भार 95.95 AMU, परमाणु संख्या 42 तथा इसका सिंबल (Mo) होता है। आवर्त सारणी (Periodic Table) में मोलिब्डेनम, ग्रुप 6, पीरियड 5 और ब्लॉक (D) में स्थित होता है, तथा इसके परमाणु में 42 इलेक्ट्रान, 42 प्रोटोन, 54 न्यूट्रॉन तथा 5 एनर्जी लेवल होते है। सामान्य तापमान पर मोलिब्डेनम धातु ठोस अवस्था में पाया जाता है, इसका गलनांक (पिघलने का तापमान) 2610 डिग्री सेल्सियस (4730 डिग्री फेरेनाइट) और इसका क्वथनांक (उबलने का तापमान) 4639 डिग्री सेल्सियस (8382 डिग्री फेरेनाइट) होता है, तथा इससे अधिक तापमान पर मोलिब्डेनम धातु गैस अवस्था में पायी जाती है। 

मोलिब्डेनम धातु की खोज स्वीडिश केमिस्ट कार्ल विल्हेल्म स्कीले (Carl Welhelm Scheele) ने 1778 में की थी।


Molybdenum-ke-gun, Molybdenum-ke-upyog, Molybdenum-ki-Jankari, Molybdenum-in-Hindi, Molybdenum-information-in-Hindi, Molybdenum-uses-in-Hindi, Molybdenum-Kya-hai, मोलिब्डेनम-के-गुण, मोलिब्डेनम-के-उपयोग, मोलिब्डेनम-की-जानकारी
Molybdenum in Hindi

मोलिब्डेनम (Molybdenum) धातु के गुण 

Molybdenum-ke-upyog, Molybdenum-ki-Jankari, Molybdenum-in-Hindi, Molybdenum-information-in-Hindi, Molybdenum-uses-in-Hindi, Molybdenum-Kya-hai, मोलिब्डेनम-के-गुण, मोलिब्डेनम-के-उपयोग, मोलिब्डेनम-की-जानकारी
Molybdenum Properties in Hindi


  • मोलिब्डेनम सिल्वर-सफ़ेद रंग की चमकदार धातु है। 
  • मोलिब्डेनम की जंक प्रतिरोधक क्षमता बहुत अच्छी होती है। 
  • मोलिब्डेनम एक नर्म धातु होती है, तथा इसे हीट ट्रीटमेंट के द्वारा हार्ड नहीं किया जा सकता।  
  • मोलिब्डेनम सामान्य तापमान पर ऑक्सीजन से प्रतिक्रिया नहीं करता, यह केवल उच्च तापमान पर ही ऑक्सीजन से प्रतिक्रिया करता है। 
  • मोलिब्डेनम  एसिड्स से धीरे-धीरे प्रतिक्रिया करता है। 
  • मोलिब्डेनम अधिकांश एसिड्स में नहीं घुलता, जबकि यह गर्म सल्फ्यूरिक एसिड और नाइट्रिक एसिड में घुल जाता है। 
  • मोलिब्डेनम सामान्य तापमान पर पानी से प्रतिक्रिया नहीं करता, जबकि 600 डिग्री सेल्सियस से अधिक के तापमान पर यह पानी से प्रतिक्रिया करके मोलिब्डेनम ट्राई ऑक्साइड बनाता है। 
  • मोलिब्डेनम से बनी वास्तु की मोटाई या व्यास जैसे-जैसे घटता जाता है, उसकी टेंसाइल स्ट्रेंथ बढ़ती जाती है जाती है। मोलिब्डेनम का यह गुण इसे तार बनने के लिए अत्यंत उपयोगी बनाता है। 
  • मोलिब्डेनम विधुत और उष्मा का अच्छा संवाहक होता है। 


मोलिब्डेनम (Molybdenum) धातु के उपयोग 

  • मोलिब्डेनम का सबसे अधिक उपयोग मिश्रधातु बनाने में किया जाता है। 
  • मोलिब्डेनम का उपयोग स्टील की मजबूती, स्ट्रेंथ और जंक प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए किया जाता है।  
  • मोलिब्डेनम उच्च तापमान और भी स्टील की स्ट्रेंथ बनाए रखता है।  
  • मोलिब्डेनम डाइसल्फ़ाइड (MoS2) का उपयोग उच्च तापमान पर कार्य करने वाले लुब्रीकेंट के रूप में किया जाता है। 
  • मोलिब्डेनम और निकल से निर्मित मिश्रधातु उष्मा और संक्षारण प्रतिरोधी होते है, इन मिश्रधातुओं का उपयोग केमिकल उद्योग में में किया जाता है। 
  • पेट्रोलियम उद्योग, पॉलिमर उद्योग और प्लास्टिक उद्योग में मोलिब्डेनम का उपयोग उत्प्रेरक के रूप में किया जाता है। 
  • मोलिब्डेनम का उपयोग हवाईजहाज और मिसाइलों  पार्ट्स बनाने में  किया जाता है। 
  • मोलिब्डेनम का उपयोग ऐसे विशेष उपकरणों निर्माण में किया जाता है जिनका उपयोग उच्च तापमान और कठिन परिस्थितियों में किया जाता है, जैसे राइफल बैरल, प्रोपेलर शाफ़्ट, स्पार्क प्लग, उच्च तापमान पर प्रयोग किये जाने वाले बिजली के उपकरण, परमाणु सयंत्र, बॉयलर प्लेट्स आदि।   


मोलिब्डेनम (Molybdenum) धातु की रोचक जानकारी 

  • मोलिब्डेनम छठा सबसे अधिक गलनांक वाला तत्व है। 
  • पौधों के लिए मोलिब्डेनम एक आवश्यक पोषक तत्व होता है। 
  • पौधों और जानवरों के शरीर में पाए जाने वाले 50 से अधिक एंजाइमों में मोलिब्डेनम उपस्थित होता है। 
  • मोलिब्डेनम मिटटी में उपस्थित अन्य पोषक तत्वों की तुलना में थोड़ा अलग है, यह अम्लीय मिटटी की अपेक्षा क्षारिय मिटटी में अधिक घुलनशील  होता है।  
  • मोलिब्डेनम 35 अलग-अलग आइसोटोप पाए जाते है, उनमें से सात आइसोटोप प्राकृतिक रूप से पाए जाते है, मोलिब्डेनम का आइसोटोप Mb-98 सबसे अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो की कुल मोलिब्डेनम का लगभग 25% है। 
  • प्रसिद्ध जर्मन होवित्जर तोप बिग-बर्था में मोलिब्डेनम स्टील का प्रयोग किया गया था, क्योकि साधारण स्टील तोप की गर्मी के कारण पिघल जाती थी। 
  • मोलिब्डेनम को मुख्यतः ताँबे और टंगस्टन के खनन के दौरान एक उप-उत्पाद के रूप में प्राप्त किया जाता है। 

No comments:

Post a Comment